Business

रघुराम राजन बैंक ऑफ इंग्लैंड के गवर्नर बन सकते हैं, आईएमएफ के चीफ इकोनॉमिस्ट रह चुके हैं

लंदन. आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (56) यूनाइटेड किंगडम (यूके) के बैंक ऑफ इंग्लैंड के गवर्नर बनने की दौड़ में शामिल हैं। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में बुधवार को यह जानकारी दी गई। 325 साल पुराना बैंक ऑफ इंग्लैंड यूके का केंद्रीय बैंक है।

  1. बैंक ऑफ इंग्लैंड के मौजूदा गवर्नर मार्क कार्नी का कार्यकाल 31 जनवरी 2020 को पूरा होगा। नया गवर्नर चुनने के लिए यूके ट्रेजरी ने 5 जून तक आवेदन मांगे थे। हालांकि, यह पता नहीं चल पाया है किस-किस किस ने आवेदन किया।

  2. राजन के अलावा एंड्रयू बेली रेस में आगे हैं। वे 2013 से 2016 तक बैंक ऑफ इंग्लैंड के डिप्टी गवर्नर रह चुके हैं। इकोनोमिक्स के प्रोफेसर और बैंक ऑफ इंग्लैंड के पूर्व नीति-निर्माता डेविड ब्लांचफ्लॉवर का कहना है कि राजन रेस में शामिल बाकी लोगों से आगे हैं।

  3. यूके ट्रेजरी के चांसलर फिलिप हैमन्ड ने अंतरराष्ट्रीय संस्थानों में काम कर चुके व्यक्ति को नया गवर्नर चुनने पर जोर दिया था। राजन इस पैमाने पर खरे उतरते हैं। वे 2003 से 2006 तक इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड (आईएमएफ) के चीफ इकोनॉमिस्ट रह चुके हैं। 2013 में आरबीआई के गवर्नर बनने से पहले उन्होंने भारत सरकार के सलाहकार के तौर पर भी काम किया था।

  4. राजन ने 2005 में चेतावनी दी थी कि दुनिया की अर्थव्यवस्था पर खतरा मंडरा रहा है। उस वक्त अमेरिका के पूर्व ट्रेजरी सेकेट्री लैरी समर्स ने राजन की निंदा की थी। लेकिन, राजन की चेतावनी के 3 साल बाद ही लीमैन ब्रदर्स संकट सामने आ गया था।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

      रघुराम राजन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *